fbpx

Ancient History Notes PDF in Hindi For SSC GD

0

Ancient History Notes in Hindi For SSC GD Download Free PDF

Ancient History Notes in Hindi:- Hello friends, today we are sharing Ancient History Notes in Hindi For SSC GD with you.This Ancient History PDF can prove to be very important in your upcoming government exams like UPSC/SSC (MTS/CHSL/CGL), RAILWAY/NTPC/POLICE/RRB/UPSSSC/ SSC GD/ RPSC/ STATE PCS, etc. Ancient History Notes SSC GD PDF Friends, you can remember these notes pdf very easily, in this Ancient History Notes in Hindi PDF very important History Questions and Answers related to government exams have been given which will help you in all your government exams. Will play an important role in the preparation of

You can download this History Questions and Answers in Hindi PDF very easily and for free from the link given below. And you can download PDF and Handwritten Notes of NCERT History Notes for UPSC PDF in Hindi. We are here to give you all subjects like – Computer, General Knowledge, Economics, History, Hindi, Maths, Social ScienceWorld History, English, General Science, Geography, Reasoning, Polity, Art and Culture, Current Affairs, etcare provided

History Questions and Answers Quiz

Ancient History Notes in Hindi For SSC GD Download:- Ancient History Books in Hindi for UPSC, and History Handwritten Notes in Hindi PDF for SSC CGL, as well as Ancient History Notes for UPSC PDF in Hindi, Indian History Notes PDF in Hindi, History GK Questions in Hindi We get PDF and Handwritten Notes downloaded for free from our website, we do not charge you any fee for this. History Questions for UPSC Prelims PDF Friends, we keep putting all kinds of notes and PDFs for you every day,

 History PDF for SSC GD, Indian History Notes in Hindi PDF, Ancient India History Notes PDF You can update your knowledge every day by visiting our website pdfgovtexam.com. Ancient History Notes for SSC CGL Friends, if you want that your future is bright and you get a government job, then you have to keep updating yourself continuously. My friends, the basic mantra of passing the government exam is that if you keep on studying and keep updating your knowledge continuously, then only you will be able to be successful. You will also get very important information about History Questions and Answers.

Class 7 History Questions and Answers – History of India (1707 to 1950 Book PDF in Hindi)

Ancient History Notes PDF in Hindi For SSC GD

पानीपत का युद्ध – बाबर और इब्राहिम लोदी मध्य हुआ था।

पानीपत की लड़ाई/युद्ध – बाबर और इब्राहिम लोदी मध्य हुआ था।

संन 1526 पानीपत का युद्ध – बाबर और इब्राहिम लोदी मध्य हुआ था।
जब बाबर और इब्राहिम लोदी मध्य हुआ उस वक़्त लोदी सल्तनत के इब्राहिम लोदी का दिल्ली पर राज था।पानीपत जो की दिल्ली के पास में इब्राहिम लोदी और काबुल के शासक बाबर दोनों की सेनाओं के बीच बोहोत ही भयंकर युद्ध हुआ था। इब्राहिम लोदी सेना में ज्यादा सैनिक थे और बाबर की सेना से ज्यादा शक्तिशाली भी थे। फिर भी उस समय के अपने सामरिक हथियारों से कही ज्यादा उन्नत हथियार और इसी के साथ ही अपनी चौबीस तोपों के बलबूते पर काबुल के शासक बाबर ने इब्राहिम लोदी की सेना को हरा दिया

और अपनी जीत का परचम फहरा दिया जबकि इस युद्ध में इब्राहिम लोदी की मोत हो गयी। इस तरह से दुनिया के सबसे शक्तिशाली और लम्बे वक़्त तक शासन करने वाले सम्राज्यो में से एक सम्राज्य – मुग़ल शासन की भारत देश में स्थपना हो गयी। तत्पश्चात मुग़ल शासन ने भारत के सामाजिक, राजनैतिक एव आर्थिक इतिहास को हमेशा के लिए बदल दिया। मुग़ल शासन की स्थापना के साथ ही आज जो भारत, विशेषकर उत्तर भारत, का ताना – बाना बना है उसकी नींव रख दी गई थी।

1757 में प्लासी का युद्ध– नवाब सिराजुद्दौला और लार्ड क्लाइव के मध्य हुआ।

भारत में अंग्रेजों के पांव प्लासी की लड़ाई की वजह से मजबूती जम गये।
ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी जो की लार्ड क्लाइव के नेतृत्व में कंपनी की सेना ने नवाब सिराजुद्दौला की सेना को प्लासी के युद्ध पूर्ण रूप से नसतो नाबूत करके बंगाल में ब्रिटिश सम्राज्य स्थापित कर दिया। जब ये सब चल रहा था उस वक़्त भारत में अंग्रेजो और फ़्रांसिसीयो के मध्य भविष्य के सामरिक आधिपत्य को लेकर और व्यापारिक आधिपत्य को लेकर संघर्ष चल रहा था सिराज-उद -दौला फ्रांसीसियों का समर्थन करता था वह उनके हक़ में बोलता था। अंग्रेजों के कलकत्ता स्थित व्यापार केंद्र पर हमला कर दिया और वह पर जितनी भी अंग्रेजी फौज थी पूरी फौज का खात्मा कर दिया था उसने इस घटना को संन 1756 में अंजाम दिया था

मीर जाफर ने प्लासी की युद्ध में सिराजुद्दौला से गद्दारी करके अंग्रेजी फौजो का साथ दिया। बंगाल की कमान मीर जफ़र के हाथ प्लासी की युद्ध के बाद कुछ समय तक मीर जफ़र के हाथो में रहीलेकिन ये जयदा समय तक मीर जफ़र के पास नहीं रही क्योकि ब्रिटिशो को इस्सकी आदत लग चुकी थी इसी के चलते उन्होंने जल्दी ही बंगाल के शासन के बाग़ डोर अपने हाथो में ले ली और फिर ब्वहि से अंग्रेजो ने शासन करना प्रारम्भ कर दिया। बंगाल के डाफी कमाई हुई और फिर दौलत के बलबूते पर उन्होंने धीरे धीरे अपनी सेना को और भी ज्यादा मजबूत करना प्रारम्भ दिया। और जब उनकी सेना पूर्ण रूप से मजबूत हो गयी और और पेसो के दम पर पुरे भारत में धीरे धीरे अपने पैर पसारे और अपने फिर अपने सम्राज्य की स्थापना कर दी।

Download PDF

Disclaimer :-

  1. Hello friends, we want to make you aware of some important things that we are not the creator of the PDF you provide, we are the only way to access the PDF for you।
  2. If you have any kind of problem with any post, blog or content created by us, or if we have any error, you can feel free to contact us, we will solve you as soon as possible।
  3. If you have any suggestions for us then you can feel free to contact us, we will work on your suggestions as soon as possible।
  4. To contact us you can mail to our mail id-Contact@pdfgovtexam.com, we will try to resolve the issues as soon as possible।
  5. We are constantly working for you to make your future bright and we look forward to your cooperation।
Leave A Reply

Your email address will not be published.