fbpx

Rajasthan Geography Notes PDF || राजस्थान का भूगोल

0

Rajasthan Geography In Hindi || Rajasthan Geography Notes

Rajasthan Geography Handwritten Notes PDF:- हमारी वेबसाइट पर आपका हार्दिक स्वागत है हम आपके लिए आज राजस्थान का भूगोल प्रश्नोत्तरी, Rajasthan Geography PDF और राजस्थान जियोग्राफी के हस्तलिखित नोट्स की  PDF जिसमे हस्तलिखिहित नोटेस बनाये गये है यह सभी अत्यंत महत्वपूर्ण और बहुत ही उपयोगी  Handwritten Notes लेकर आपके लिए हाजिर हुए है हमारे इस मंच पर Geography विषय के साथ साथ और भी अन्य विषय के नोट्स, हस्तलिखित नोट्स और पीडीऍफ़ भी आप लोगो की सुविधा के लिए उपलब्ध करवाई जाती रही है और ये हमारे द्वारा आपके लिए जो भी और जितनी भी पढाई हेतु सामग्री प्रदान करवाई गयी है वो आपके लगभग हर एग्जाम में काफी हद तक आपके लिए उपयोगी सिद्ध हो सकती है हर सरकारी परीक्षा में ये अभी नोट्स बहुत ही अनुभवी टीचर्स और नामचीन संस्थानों के द्वारा सिर्फ और सिर्फ आपकी सुविधा को मदद के लिए ही बनाई जाती है 

राजस्थान का भूगोल नोट्स PDF || Geography MCQ PDF 

Rajasthan Geography Notes PDF In Hindi :- आज ये जो Rajasthan Geography Notes हम आपके लिए उपकब्ध करवा रहे है इनमे हमने राजस्थान के भूगोल के बारे में लगभग सम्पूर्ण नोट्स और जानकारी उपलब्ध करवा रहे हैRajasthan Geography Topics, Rajasthan Geography Books, Rajasthan Geography Notes In Hindi PDF आदि में राजस्थान की भौगोलिक स्थति और विस्तार, भौतिक प्रदेश, जलवायु और जनसँख्या तथा और भी अन्य तथ्यों के बारे में वस्तृत रूप जानकारी दी ही है जो  आपके अब जो भी सरकारी परीक्षाएं रही है उसमे बहुत Important और Usefull हो सकती है इसमें से काफी Question हर बार आते हे है और आगे भी आने के बहुत अधिक चांस है इस लिए आप इनको कंठस्थ कर लीजिये ताकि एग्जाम में आपको कोई समस्या नहीं हो इसलिए आपको इनको छोड़ना नहीं चाहिए 

 राजस्थान का भूगोल Notes PDF ||  Geography Of Rajasthan In hindi

Rajasthan Geography Notes PDF || राजस्थान का भूगोल

Geography Of Rajasthan Notes || राजस्थान का भूगोल नोट्स PDF

 

 

Other Important PDFs

Maths Free PDF > Click Here To Download English PDF > Click Here To Download
GK Free PDF > Click Here To Download  Reasoning Free PDF > Click Here To Download
GS Free PDF > Click Here To Download  History Free PDF > Click Here To Download
Computer PDF  > Click Here To Download  Geography Free PDF > Click Here To Download

Rajasthan GK Handwritten Notes PDF

आज हमने लेख के माध्यम से राजस्थान का भूगोल या Rajasthan Geography के बारे में आपसे कुछ जानकारिया साझा कर रहे है जिसे हमने 7 बिन्दुओ के बारे से संक्षिप्त में बताया है वह बिंदु निम्न प्रकार से है 

  1. राजस्थान की स्थति का विस्तार
  2. राजस्थान के भौतिक प्रदेश
  3. जलवायु
  4. नदी तंत्र या अपवाह तंत्र 
  5. झीले
  6. संचाई परियोजना
  7. खनिज

इन बिनुओ की सम्पूर्ण जानकारी आपको PDF में मिल जाए अगर आप इन सारे बीनूओ पर पूर्ण जानकारी लेना चाहे तो आप ले सकते है 

(1) राजस्थान की स्थति का विस्तार :- 

इसको तीन भागो में विभक्त किया गया है जिसमे पहला है राजस्थान का क्षेत्रफल, दूसरा है राजस्थान की आकृति, और तीसरा है विस्तार 

राजस्थान का क्षेत्रफल:-

राजस्थान का क्षेत्रफल किलोमीटर² 3, 42,239   में फैला है  और अगर इसकी बात मील ²  में की जाये तो यह  1, 32,139 में फैला हुआ है राजस्थान का क्षेत्रफल देश के कुल क्षेत्रफल का 10.44 % है

आकृति:- 

राजस्थान की स्थति का आकार T. H हेंडले के द्वारा रोमबज, विषमकोणीय चतुर्भुज तथा पतंगाकार आकृति कहा गया है 

विस्तार:- 

राजस्थान की त्रिय अंतरास्ट्रीय सीमाएं 4850 है तथा अन्तर्राज्य सीमाएं 1070 है तथा राजस्थान की कुल सीमा 5920 है 

अन्य जियोग्राफी के महत्वपूर्ण नोट्स –

Indian and World Geography in Hindi PDF 2022 Download Rajasthan Geography Notes PDF || राजस्थान का भूगोल 500+World Geography MCQ PDF in Hindi | Indian Geography MCQ PDF
Indian Geography MCQ In Hindi | World Geography MCQ For UPSC Geography MCQ PDF In Hindi Download World Geography Questions And Answers PDF in Hindi
World Geography MCQ In Hindi | Indian Geography MCQ In Hindi Rajasthan Geography Notes PDF | राजस्थान का भूगोल Notes PDF Rajasthan Geography Notes PDF in HIndi || राजस्थान भूगोल महत्वपूर्ण नोट्स
World Geography MCQ In Hindi PDF | Indian Geography In Hindi Book World Geography MCQ PDF in Hindi | Geography MCQ PDF in Hindi Geography Objective Question In Hindi PDF | Geography MCQ PDF In Hindi

(2) राजस्थान के भौतिक प्रदेश :-

भारत के राजस्थान राज्य को मुख्य रूप से जलवायु के आधार पर चार प्रकार के भौतिक प्रदेशो में बिभक्त किया गया है जिसमे सबसे पहला है मरुस्थल, दूसरा है अरावली, पूर्व मैदान तथा हाड़ोती आदि है 

मरुस्थल:- 

त्तरी पश्चिमी मरुस्थलीय प्रदेश टरशयरी प्लीस्टोसीन आदि का निर्माण काल है तथा इसका विस्तार कुछ इस प्रकार है इसकी कुल लम्बाई 640 किलोमीटर है, तथा इसकी चौड़ाई 300 किलोमीटर है, तथा इसकी औसत ऊंचाई है 200 – 300 मिटेर ( समुद्र तल से ऊंचाई ) है

अरावली:- 

इसका निर्माण काल प्री केम्ब्रियन काल, एप्रेशियन पर्वतमाला के समकालीन या बराबर है और इसका विस्तार कुछ इस प्रकार है इसकी कूल लम्बाई 692 किलोमीटर है, इसकी राज में लम्बाई 550 किलोमीटर या 80 % है तथा इसकी औसत ऊंचाई  930 मीटर है 

पूर्वी मैदान:-  

पूर्वी मैदान नदियो के द्वारा जमा की गयी जलोढ़ मिटटी के द्वारा किया गया है तथा इसका अध्यन – पूर्वी मैदान को तीन प्रकार के भागो में बांटा गया है जिसमे पहला है माहि का मैदान , दूसरा है बनास या फिर बाणगंगा का मैदान तथा तीसरा है चम्बल क मैदान 

दक्षिणी पूर्वी पठारी क्षेत्र या हाड़ोती:- 

दक्षिणी पूर्वी पठारी क्षेत्र या हाड़ोती का निर्माण पैठीक लावा या फिर बेसाल्ट लावा से इसका निर्माण हुआ है, दक्षिणी पूर्वी पठारी क्षेत्र या हाड़ोती की मिटटी काली मिट्टी या फिर कपासी मिट्टी होती है, अगर इसको अध्यन्न की दृस्टि से देखा जाए तो इसको दो मुख्य भागो में तथा तीन गोण भागो में विभक्त किया गया है 

(3) जलवायु :-

जलवायु का अभिप्राय है की पृथ्वी के चारो तरफ वायुमंडल की दीर्ध कालीन घटनाओ को जलवायु कहा गया है तथा इसकी जलवायु का निर्धारण 300 वर्षो की औसत दशाओ के मद्धेनजर रख कर जलवायु का निर्धारण किया जाता है  तथा राजस्थान की जलवायु उपोषण कटिबंधीय जलवायु होती है 

(4) नदी तंत्र या अपवाह तंत्र :-

  • राजस्थान के नदी तंत्र या अपवाह तंत्र को तीन भागो में विभक्त किया गया है उन तीन भागो के नाम निम्नानुसार है पहला में अरब सागर की नदिया आती है जो की 17% है दूसरे में अन्तः प्रवाही नदिया जो की लगभग 60% है तथा अंत में बंगाल की खाड़ी की नदिया आती ही जो की लगभग 23% है। 
  • राज्य राजस्थान में मरुस्थल का सबसे ज्यादा विस्तार होने के कारण देश में सबसे अधिक अन्तः प्रवाही नदिया राजस्थान में है। 
  • राजस्थान में देश की कुल सतह का लगभग 1.16% है। 
  • राजस्थान में देश की कुल भूमिगत जल का लगभग 1.67% है

(5) झीले:-

  • पान को प्रकृति के आधार या मद्धेनजर रखते हुए इनको दो भागो में विभक्त किया गया है। जिसमे पहला प्रकार है खारे पानी की झीलें जिसका कारण ये है की टेथिस सागर के अवशेष के आधार पर तथा दूसरा दूसरा भाग है मीठे पानी की झीलें जिसका कारण यह है की यह झीलें वर्षा के पानी और ताजे पानी से निर्मित झीलें होती है
  • मीठे पानी की कुछ झीलों के नाम इस प्रकार है – सांभर जो की जयपुर में स्थित है, पचपदरा जो की बाड़मेर में स्थित है आदि तथा खारे पानी की कुछ झीलों के नाम इस प्रकार है – राजसमंद झील जो की उदयपुर में स्थित है, फ़तेहसागर और पिछोला झील जो की उदयपुर में स्थित है आदि। 

ये भी देखे – सामन्य विज्ञानं के सबसे बेहतरीन नोट्स

300+ General Science Questions Answer PDF in English General Science Question Answer PDF For All Competitive Exam General Science Notes for Competitive Exams in Hindi Khan Sir Science Notes PDF Download In Hindi | Pdfgovtexam

Important Biology PDFs

Biology 1100+One Liner Question Answer PDF In Hindi Biology One Liner Question And Answer PDF in English Advance Level Of Biology Complete Notes PDF In Hindi { जीव विज्ञानं }
Biology One Liner Question In Hindi | विज्ञान के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर Biology Handwritten Notes in Hindi PDF {जीवविज्ञान हस्तलिखित नोट्स} Top Biology One liner Question In Hindi PDF | Biology One Liner PDF In Hindi

Important Chemistry PDFs

200+ Chemistry Objective Question in Hindi PDF Download 400+ Chemistry Questions And Answer PDF For SSC || Pdfgovtexam

Important Physics PDFs

Physics GK Questions In Hindi | Physics In Hindi MCQs Physics GK Question and Answer in Hindi PDF Download | भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी 1100+ Physics MCQ In Hindi PDF Download {भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी}

(6) संचाई परियोजना:-

  • राजस्थान में सिचाई के प्रमुख साधन या माध्यम माने गए है जैसे की नलकूप से, नेहरो से, तालाबो से और कुओ आदि से सिंचाई का माध्यम माना गया है   
  • राजस्थान में सिचाई का वर्गीकरण तीन प्रकार के भागो में विभक्त किया गया है जिसमे पहला सिचाई का वर्गीकरण का प्रकार लघु सिंचाई परियोजन (0 – 2000 H) है, दूसरा सिचाई का वर्गीकरण का प्रकार मध्यम सिंचाई परियोजन (2000 – 10000 H↑) है और तीसरा सिचाई का वर्गीकरण का प्रकार वृहत सिंचाई परियोजन (10000 H ) है।

(7) खनिज:-

राजस्थान में खनिजों को पांच प्रकार से बिभक्त किया गया है जिसमे नबर एक पर आता है खनिज दृश्टिकोण, दूसरे नम्बर पर आता है खनिज चट्टानें, तीसरे नम्बर पर आता है खनिज वर्गीकरण, चौथे नम्बर पर आता है कनीज उत्पादन, पांचवे नम्बर पर आता है खनिज नीतिया  

DOWNLOAD PDF 

Study Material PDF for all Government Exams

MATHS / गणित
ENGLISH / अंग्रेजी
HINDI / हिंदी
POLITY / राजनीती
Other Links
PLEASE LIKE AND FOLLOW OUR FACEBOOK PAGE FOR LATEST UPDATES

 

PLEASE JOIN OUR TELEGRAM CHANNEL

pdfgovtexam.com is India’s leading educational online mach, here you can prepare for all types of government and non-government exams like MBA, CAT, Hotel Management, Bank PO, RBI, SBI PO, NABARD, BSRB Recruitment, SCRA, Railway Recruitment , LIC AAO, GICAAO, Asst. Grade, UDC, LDC, SSC MTS, SSC CPO, SSC JE, HSSC, Tax, Central Excise, CBI, CPO, B ED, MBBS, IAS, PCS, IFS, UPSC CDS, UPPSC, BPPSC, MPPSC, UPSSSC, WBPSC, You can also download PDF of AFCAT, BPSC, Defense exam, police, patwari, Clark, VDO and other exams.

Disclaimer 

Friends, we do not solve these pdf’s to help you in your studies, this pdf has been provided to you, we BS is only a medium, yet if anyone has any objection, then inform us, we will remove all these immediately.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.